Sunday, August 4, 2013

तेरे बिन सूने, नैन हमारे

Film: Meri Soorat Teri Ankhen 1963
नहीं रही पंजाब स्क्रीन
की सक्रिय संचालिका 

सुश्री कल्याण कौर

रात जो आये ढल जाये प्यासी
दिन का है दूजा नाम उदासी
निन्दिया न आये अब मेरे द्वारे
हाय! तेरे बिन सूने
 नैन हमारे....!

तेरे बिन सूने, नैन हमारे 
हाय! तेरे बिन सूने
बाट तकत गये साँझ सखारे
हाय! तेरे बिन सूने

रात जो आये ढल जाये प्यासी
दिन का है दूजा नाम उदासी
निन्दिया न आये अब मेरे द्वारे
हाय! तेरे बिन सूने ...

जग में रहा मैं जगसे पराया
साया भी मेरा मेरे साथ न आया
हँसने के दिन भी रोके गुज़ारे
हाय! तेरे बिन सूने ...

ओ अनदेखे, ओ अनजाने
छुप के न गा ये प्रेम तराने
कौन है तू मोहे अब तो बता रे
हाय! तेरे बिन सूने ...

No comments:

Post a Comment